अगर आप भी चाहते हैं घर में सुख-शांति और समृद्धि तो आज ही कर लें ये उपाय

इस दुनिया में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जो अपने घर में सुख शांति नहीं चाहता होगा। हममें से हर कोई ढ़ेर सारा धन कमाने के प्रयास में लगा रहता है लेकिन वहीं कई लोगों के यहां देखने को मिलता है कि वो धन तो कमा लेते हैं पर उनके घर में जरा भी सुख शांति नहीं रहती है। जी हां ये हम ऐसे ही नहीं कह रहे हैं बल्कि ऐसी समस्याओं से आधे से ज्यादा लोग परेशान रहते हैं। वो कहते हैं न कि ज़िंदगी की गाड़ी सही ट्रैक पर हो और अपनी सही रफ़्तार से चलती भी रहे, ये तो सब चाहता है लेकिन हमेशा ही अपेक्षाओं के आधार पर परिणाम मिलें, ऐसा जरूरी नहीं होता। कई बार लोग ऐसा महसूस करते हैं कि काफी परिश्रम और प्रयत्न के बाद भी धन नहीं मिलता या मनचाही सफलता नहीं मिलती। कभी मेहनत के अनुसार आपको पैसे नहीं मिलते तो कभी मनमाफिक नौकरी नहीं मिलती। व्यापारी हैं तो व्यापार में बरकत नहीं है।आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर हम अपने घरों में रोजमर्रा के क्लेश, झगड़े आदि कैसे कम करें, या फिर ऐसा क्या करें जिससे घर में सुख-शांति कैसे बनी रहे और रिश्तों में प्रेम बना रहे, इसके लिए आज हम आपको कुछ ऐसे उपाय जो धार्मिक उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं जो शास्त्रों में बताए गए हैं। तो आइए जानते हैं कुछ अचूक उपाय

सबसे पहले बात करते हैं पीपल के वृक्ष की तो बता दें कि अगर आप हर रोज पीपल के पेड़ पर जल अर्पित करते हैं तो ऐसे में पितृ दोष का शमन होता हैं और ऐसा करने से घर में खुशहाली आती है। अगर आप अपने घर में खुशहाली लाना चाहते हैं और खुशहाल पारिवारिक जीवन बिताना चाहते हैं तो किसी भी आश्रम में कुछ आटा ओर सरसों का तेल का दान कर आएं ऐसा करने से घर में सुख समृद्धि बनी रहेगी। सप्ताह में एक बार जरूर समुद्री नमक अथवा सेंधे नमक से घर में पोछा लगाएं। नमकयुक्त पानी से नित्य प्रात: घर की दहलीज धोएं, इससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है। आप चाहे तो नींबू के चार टुकडे करके चार दिशा में फेंक दें, ये प्रक्रिया अगर आप 40 दिन तक करते हैं तो आपको रोजगार प्राप्त होने की दिशा में विशेष अनुकूलता होती हैं।

अगर आप कभी भी लक्ष्मी पूजन करते हैं तो ध्यान रहे कि उनका पूजन अकेले नहीं बल्कि भगवान विष्णु के साथ करें तभी तो लक्ष्मी की अनुकूलता अनुभव होती हैं। आप कहीं भी जाने से पहले यदि महा मृत्युन्जय मन्त्र का जप करके घर से बाहर निकलते हैं तो आपपर दिन भर सुरक्षा रहती हैं। यदि व्यक्ति हर अमावस्या को भोजन ग्रहण करने से पूर्व कुछ भाग अपने पितरो को अर्पित करता हैं तो उनके आशीर्वाद से अत्यधिक अनुकूलता उसे अर्जित होती ही हैं। हर अमावस की रात्रि में किसी भी चौराहे पर सरसों के तेल का चौमुखा दीपक जलाएं। ऋण मुक्त होंगे। ध्यान रहे इन उपायो को प्रयोग में लाने से जीवन में आपको कभी धन और सुख समृद्धि की कमी न हों और घर में हमेशा शांति का माहौल बना रहें।