पैरों के लिए काफी नुकसानदेह साबित हो सकते है ये 5 तरह के जूते, पहनने से पहले जानें ये जरूरी बातें

ए‍क रिसर्च के मुताबिक एक एवरेज आदमी साल में 245 से लेकर 292 किलोमीटर तक वॉक करता है। इस दौरान यदि उसने पैरों में अच्‍छे फुटवेयर नहीं पहने होते तो उसे पैरों से जुड़ी कई परेशानियों से दो चार होना पड़ता है। खासतौर पर अगर महिलाओं की बात करें तो, फैशन की दीवानी महिलाएं कई बार स्‍टाइल के खातिर सेहत से समझौता करने से भी नहीं चूकतीं।

अपने डिजाइनर आउटफिट्स के साथ स्‍टाइल को मेंटेन करने के चक्‍कर में वह तरह-तरह की हील और आकार वाले फुटवेयर पहन लेती हैं और इस कारण उनके पैरों में दर्द, सूजन और यहां तक की उनके पैरों का शेप तक बिगड़ जाता है। मगर, ऐसा फैशन किस काम का जो आपके पैरों को डैमेज करे और आपको दर्द में रहने के लिए मजबूर कर दे। तो चलिए आज हम आपको बताएंगे कि किस तरह के फुटवेयर आपके पैरों की सेहत के लिए खराब साबित हो सकते हैं।

पॉइंटेड शूज

पॉइंटेड जूतियां आजकल फैशन में खूब हैं। यह पैरों को बेहद खूबसूरत आकार देती हैं। मगर, आपके पैर चौड़े हैं तो आपको इस तरह की जूतियां नहीं पहननी चाहिए। इन्‍हें पहनने के कुछ देर बाद आपके पैरों की उंगलियों में दर्द होने लगेगा। इस तरह की जूतियां पहनने के बाद आप जब चलेंगी तो सारा प्रेशर अपके पैरों की उंगलियों पर आएगा। इस तरह आपके पैरों में दर्द बढ़ेगा। यही नहीं आपको इन्‍हें पहनने के बाद इतना दर्द होगा कि आप किसी और फुटवेयर को भी कुछ समय के लिए नहीं पहन पाएंगी।

स्‍पोर्ट शूज

अगर आपको रोज सुबह मॉर्निंग वॉक पर जाने की आदत है तो आपको अपने स्‍पोर्ट शूज भी सावधानी के साथ चुनने चाहिए। खासतौर पर आपको बहुत अधिक लाइट वेट के जूते नहीं पहनने चाहिए। यह दिखने में जितने आरामदायक नजर आते हैं उतना ही आपके पैरों को डैमेज करते हैं। यह बेहद फ्लेक्सिबल और सॉफ्ट होते हैं। इन्‍हें पहनने से आपका पैर कभी मुड़ सकता है। आपको एथलेटिक शूज, मजबूत बेस वाले पहनने चाहिए। यह आपके पैरों को सेफ रखेंगे।

हाई हील्‍स

महिलाओं को हाई हील्‍स से खास लगाव होता है। इससे हाइट तो बढ़ती ही है साथ ही यह लुक्‍स की स्‍मार्टनेस को भी बढ़ाता है। मगर हाई हील्‍स पहनने से आपको पैरों में मोच, नर्व डैमेज और लोवर बैक पैन जैसी समस्‍या हो सकती है। चिकित्‍सकों की मानें तो आपको रोजाना 3 इंच से उंची हील वाले फुटवेयर नहीं पहनने चाहिए। साथ आपको थोड़े समय बाद ही अपने फुटवेयर को चेंज कर लेना चाहिए। खासतौर पर अगर आप वर्किंग हैं और आपको चलने फिरने वाला काम ज्‍यादा रहता है।

फ्लैट शूज

अगर बहुत ज्‍यादा हील्‍स वाले फुटवेयर नहीं पहनने चाहिए तो बहुत फ्लैट बेस वाले फुटवेयर भी नहीं पहनने चाहिए। यह बात आपको शायद हैरान कर दे मगर, फ्लैट फुटवेयर भी आपके पैरों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। क्‍योंकि इस तरह के फुटवेयर में पैरों को सपोर्ट करने की क्षमता नहीं होती है। साथ ही यह plantar fascia पर काफी प्रेशर भी डालते हैं। इससे आपके घुटनों और बैक में दर्द बढ़ सकता है। अगर आपको फ्लैट फुटवेयर पहनने की आदत है तो आपको ऑर्थोटिक इंसर्ट का इस्‍तेमाल करना चाहिए । यह अपकी फीट की पोजीशन को फिक्‍स कर देगा।

प्‍लैटफॉर्म शूज

प्‍लैटफॉर्म हील्‍स को देख कर लगता है कि इन्‍हें पहन कर चलना बेहद आसान होता होगा। मगर, यह बिलकुल भी फ्लैक्सिबल नहीं होते हैं। इन्‍हें पहनने से आपकी चाल तक बिगड़ सकती है। इसलिए प्‍लैटफॉर्म हील्‍स पहनने की जगह आपको एक सामान्‍य उंचाई वाले फुटवेयर पहनने चाहिए।