टैक्सी ड्राईवर महिला से बोला ‘ज्यादा गर्मी हैं तो गोद में आकर बैठ जाओ’, जाने फिर क्या हुआ

दोस्तों इन दिनों महिलाओं के साथ होने वाली बतसलुकियाँ काफी बढ़ गई हैं. जहाँ देखो वहां महिलाओं पर गन्दी कमेंट्स पास किये जाते हैं. कई बार तो लोग हद ही कर देते हैं और एक से बढ़कर एक घटिया बाते कर देते हैं. इस स्थिति में कई सारे सवाल खड़े हो जाते हैं. क्या एक महिला का कही सफ़र करना या जाना अब सेफ नहीं रहा हैं? खासकर पिछले कुछ समय से टैक्सी में सफ़र कर रही महिलाओं के साथ कुछ ड्राईवर बड़े ही बेकार तरीके से पेश आ रहे हैं. इसी कड़ी में एक ताज़ा वाक्या देश की राजधानी दिल्ली में हो गया. दरअसल यहाँ एक महिला टैक्सी से सफ़र कर रही थी कि तभी बीच रास्ते में ड्राईवर ने महिला से कहा कि ‘मैडम ज्यादा गर्मी लग रही हो तो आकर मेरी गोद में बैठ जाओ.’ आइए विस्तार से जाने पूरा मामला…

हुआ ये कि 19 मार्च को दिल्ली की रहने वाली एक महिला उबर टैक्सी से अपने पति के साथ सफ़र कर रही थी. इस बीच महिला ने ड्राईवर को एसी ऑन करने के लिए कहा. लेकिन ड्राईवर ने ऐसा करने से इनकार कर दिया. इसके बाद दोनों की बहसबाजी हो गई. इस बीच ड्राईवर महिला से बोला कि यदि इतनी ही गर्मी लग रही हैं तो मेरी गोद में आकर बैठ जाओ. इसके बाद मामला और भी बिगड़ गया. महिला के अनुसार उस ड्राईवर ने राइड भी पूरी नहीं कि और उन्हें बीच रास्ते में ही टैक्सी से उतरने के लिए कहा.

उधर महिला ने उबर कंपनी में ड्राईवर की शिकायत कर दी. उन्होंने उसके ऊपर बदसलूकी का इल्जाम लगाया. महिला की शिकायत देखने के बाद उबर ने उन्हें ड्राईवर के ऊपर कारवाई करने का आश्वासन दिलाया. महिला ने ये घटना सोशल मीडिया पर भी शेयर की. महिला पेशे से एक पत्रकार हैं. महिला जब अपने पति के साथ जा रही थी तभी ये पूरी घटना सामने आई. हालाँकि इस विषय में अभी तक ड्राईवर का पक्ष सामने नहीं आया हैं. उधर सोशल मीडिया पर लोगो ने भी इस घटना केप्रति दुःख जाहिर किया. लोगो का कहना हैं कि उस ड्राईवर के ऊपर कंपनी को कड़ी कारवाई करनी चाहिए. वहीँ कुछ लोगो ने अपनी खुद के इस तरह के बुरे अनुभव भी शेयर किये.

बताते चले कि ये कोई पहला मामला नहीं हैं जब टैक्सी ड्राईवर का इस तरह की महिला के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया हो. इसके पहले भी उबर और ओला टैक्सी ड्राईवर के खिलाफ कई तरह की शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं. टैक्सी की इन बड़ी कंपनियों के होने के बावजूद इनकी राइड ज्यादा सेफ नहीं रहती हैं. हालाँकि इस तरह की स्थिति से निपटने के लिए इन कंपनियों का कस्टमर केयर नंबर और इमरजंसी नंबर भी होता हैं. यदि आप किसी मुसीबत में फास जाते हैं तो इन्हें बता सकते हैं. इमरजंसी स्थिति में तो कंपनी के पास टेक्सी की करंट लोकेशन भी पहुँच जाती हैं. वैसे आपके साथ क्या कभी इस तरह का कोई बुरा अनुभव हुआ हैं? अपने सभी अनुभव कमेंट में हमारे साथ जरूर शेयर करे. साथ ही इस तरह की ख़बरों के लिए हमसे जुड़े रहे.