बॉलीवुड के इन स्टार्स ने घर से भाग कर की थी शादी, एक ने तो सिंदूर ना मिलने पर लिपस्टिक से ही भर दी थी मांग

सामान्य तौर पर देखा जाए की अगर आप कोई भी काम करते हैं जो सामान्य से थोड़ा हटकर भी होता है तो भी उसे बहुत ज्यादा लोकप्रियता नही मिल पाती है लेकिन वहीं दूसरी तरफ यदि हमारे बॉलीवुड के सितारे कोई भी काम चाहे छोटा या बड़ा करते है तो समझ लीजिए वह एक बड़ी खबर बन जाती है, ऐसे में बॉलीवुड में लव मैरिज का प्रचलन तो बहुत ही सामान्य सी बात है। आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि पिछले साल 2018 में कई बॉलीवुड सितारों ने भी अपने लंबे समय से चल रहे लव को मैरिज का रूप दे दिया कुछ बॉलीवुड सितारों ने अपने परिवार वालों की मर्जी से भी शादी की जबकि कुछ नहीं उनके खिलाफ जाकर आज हम आपको बॉलीवुड के ही कुछ ऐसे सितारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने शादी तो की मगर घर से भागकर।

शक्ति कपूर

बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता शक्ति कपूर और शिवांगी कोल्हापुरे ने साल 1982 में एक दूसरे से शादी की थी। बता दें की दोनों के घरवालों को यह रिश्ता पसंद नहीं था लेकिन शिवांगी शक्ति कपूर से बेहद प्यार करती थीं और उनके लिए उन्होंने अपना घर तक छोड़ दिया था और फिर इनको भाग कर शादी करनी पड़ी।

आमिर खान

बॉलीवुड के मिस्‍टर परफेक्‍शनिस्‍ट आमिर खान ने रीना दत्त से पहली शादी की थी। दोनों पड़ोसी थे। आमिर ने अपने 21वें जन्‍मदिन पर रीना को प्रपोज किया था। अलग धर्म होने के कारण रीना के माता-पिता इस रिश्‍ते के लिए तैयार नहीं थे। मजेदार बात ये रही कि 18 अप्रैल 1986 को आमिर और रीना ने घर से भागकर शादी कर ली। इस कपल के दो बच्‍चे हुए जुनैद और इरा। हालांकि, 16 साल के बाद दोनों ने अलग होने का फैसला ले लिया। आमिर ने फिर किरण राव से शाद की।

जितेंद्र

गुज़रे ज़माने के सुपरस्टर बॉलीवुड अभिनेता और टीवी क्वीन एकता कपूर के पिता जीतेन्द्र का हेमा मालिनी, श्रीदेवी, जया प्रदा जैसी कई मशहूर अभिनेत्रियों के साथ अफेयर रहा है मगर आपकी जानकारी के लिए बता दें की उन्होंने सात फेरे अपनी बचपन की दोस्त शोभा के साथ लिए जो की एक एयर होस्टेस थी। प्रोड्यूसर एकता ने इंस्टाग्राम पर जितेंद्र और शोभा की तस्वीर शेयर करते हुए बताया कि 43 साल पहले शरद पूर्णिमा के दिन दोनों ने भाग कर शादी की थी। ये दोनों आज भी साथ हैं और इनका प्यार आज भी बरक़रार है।

शशि कपूर

शशि ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि थिएटर के प्रति उनका उनकी जीवन संगिनी से मिलवाएंगे। शशि और जेनिफर की मुलाकात 1956 में कोलकाता में हुई थी। उस समय ये दोनों अपने-अपने थिएटर ग्रुप्स में काम कर रहे थे। कुछ समय तक एक-दूसरे से मिलने के बाद इन दोनों को प्यार हो गया और उन्होंने शादी करने का फैसला किया। हालांकि जेनिफर के पिता को ये शादी क़ुबूल नहीं थी। इसके बावजूद भी जेनिफर मुंबई आयी और भारतीय परम्परा के साथ जुलाई 1958 में शादी की। बाद में 1984 में जेनिफर की कैंसर की वजह से मौत हो गयी और शशि अकेल रह गए। इन दोनों के तीन बच्चे हैं – करण, कुणाल और संजना।