अभिनंदन दुबारा कब उड़ा पाएंगे लड़ाकू विमान? वायुसेना चीफ ने किया खुलासा

1 मार्च को पाकिस्तान से वापस लौटे विंग कमांडर अभिनंदन इन दोनों लगातार सुर्ख़ियों का हिस्सा बने हुए हैं. जब अभिनंदन पाकिस्तान की कैद में थे तो भारत के करोड़ो लोगो ने उनके वापस सही सलामत आने की दुआए की थी. उधर सरकार ने भी पकिस्तान पर दबाव बनाना शुरू कर दिया था. नतीजन अभिनंदन आज हमारे बीच वापस आ गए. उनके आने के बाद से ही लोगो के बीच ख़ुशी का माहोल हैं. लोग उनसे जुड़ी हर बात जानने को उत्सुक रहते हैं. वे भारत के हीरो बन गए हैं. ऐसे में कई लोगो के मन में ये सवाल भी उठ रहा हैं कि अभिनंदन अब दुबारा फिर कब अपना फाइटर प्लेन उड़ा पाएंगे? ऐसे में इस बात का जवाब खुद वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ ने आज (सोमवार) अपनी प्रेस कांफ्रेंस में दिया हैं.

चेन्नई में हुई इस प्रेस कांफ्रेंस में वायु सेना चीफ बीएस धनोआ से कई सवाल पूछे गए जिनके उन्होंने जवाब दिए. मसलन जब एक पत्रकार ने उनसे 26 फरवरी को पाकिस्तान में हुई एयरस्ट्राई में ख़त्म हुए लोगो की संख्या के बारे में पीछा तो उन्होंने कहा कि वायु सेना का काम टारगेट को नष्ट करना हैं. इसमें कितने लोग नहीं रहे ये गिनना सरकार का काम हैं. वही आपको आकड़े बताएंगी. हालाँकि उन्होंने ये क्लियर किया कि हमने टारगेट पर निशाना लगाया था और उसमे सफलता भी हासिल की थी. यदि ऐसा नहीं होता तो पाकिस्तान 27 फरवरी अपने विमान भेज घुसपैठ क्यों करता?

आपकी जानकारी के लिए बता दे यहाँ बीएस धनोआ जिस घुसपैठ की बात कर रहे हैं ये वही हैं जिसकी जवाबी कारवाई में विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान चले गए थे. हुआ ये था 26 फरवरी की एयरस्ट्राइक से बौखलाए पाकिस्तान ने भारतीय सीमा में अपने F16 विमान भेजे थे. हालाँकि वायु सेना को इसकी भनक लग गई और उन्होंने जवाबी कारवाई करने के लिए अपने मिग 21 बिसन विमानों को भेजा. इनमे से एक विमान अभिनंदन भी उड़ा रहे थे. उन्होंने बड़ी बहादुरी से पाकिस्तानी विमान को वापस पाकिस्तान खदेड़ दिया. यहाँ तक कि एक पाक फाटर जेट को तो गिरा भी दिया. हालाँकि इस बीच उनका खुद का प्लेन पाकिस्तान में क्रेश हो गया था. यही से पाक सेना ने उन्हें हिरासत में लिया था.

अब चुकी पाकिस्तान में 60 घंटे रहने के बाद अभिनंदन वापस आ चुके हैं तो वर्तमान में उनका मेडिकल ट्रीटमेंट और चेकअप चल रहा हैं. बता दे कि 27 फरवरी को प्लेन क्रेस होने से पहले उन्होंने खुद को इजेक्ट कर लिया था और पेरासूट से लैंड हुए थे. लेकिन इस वजह से उनकी कमर और पस्लीइयों में चोट आ गई. जिसका इलाज भारत में हो रहा हैं.

अभिनंदन फिर कब उडाएंगे फाइटर जेट?

एयरफ़ोर्स चीफ बीएस धनोआ ने बताया कि यदि अभिनंदन हमारे मेडिकल और फिजिकल टेस्ट में फीट पाए जाते हैं तो वे तुरंत ही विमान उड़ा सकते हैं. हालाँकि यदि वो फीट नहीं पाए जाते हैं तो हम उनका और अच्छा ट्रीटमेंट करेंगे और देखेंगे कि आगे चलकर वो कब तक पूरी तरह फिट हो पाते हैं. यदि वो भविष्य में फिट पाए जाते हैं तो बेशक विमान उड़ा सकते हैं. वायु सेना प्रमुख ने ये भी बताया कि एयरफोर्स में फिटनेस के माप डंडो का सख्ती से पालन किया जाता हैं. क्योंकि यदि हमने किसी अनफिट बंदे को प्लेन उड़ाने दिया तो इस बात के चांस ज्यादा हैं कि उसका लेन दुबारा क्रेश हो जाएगा और फिर उसे सारी जिन्दगी व्हील चेयर पर बैठ भी बितानी पड़ सकती हैं. इसलिए फिटनेस को लेकर कोई भी समझौता नहीं किया जाता हैं.