इस दिन भूलकर भी ना तोड़े तुलसी के पत्ते, होता हैं बड़ा अपशगुन

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं हिंदू धर्म में श्रीकृष्ण की पत्नी तुलसी का जिक्र कई बार किया गया हैं. तुलसी जी को एक देवी का दर्जा प्राप्त हैं. यही वजह हैं कि हिंदू धर्म में इनकी पूजा पाठ भी होती हैं. लगभग हर हिंदू अपने घर तुलसी का पौधा जरूर लगाता हैं. तुलसी को हम अपनी बेटी बनाकर घर में रखते हैं और फिर हर साल दिवाली के बाद एकादशी के दिन  उनका विवाह कृष्ण जी से कर देते हैं. घर में तुलसी लगाने के कई सारे फायदे होते हैं. ये घर में मौजूद कई तरह के वास्तु दोष भी दूर करता हैं. ऐसा कहा जाता हैं कि जिस घर में तुलसी होती हैं वहां पॉजिटिव एनर्जी बहुत अधिक होती हैं. इस पॉजिटिव एनर्जी से घर का वातावरण भी अच्छा रहता हैं और घर में सुख शान्ति बनी रहती हैं. साथ ही तुलसी जी हमें लोगो की बुरी नज़र से भी बचाती हैं.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि घर में तुलसी का पौधा लगाने के साथ साथ उससे जुड़े कई नियमों का भी पालन करना पड़ता हैं. यदि आप तुलसी से जुड़े इन नियमों को नहीं मानोगे तो आपको तुलसी माता का आशीर्वाद भी प्राप्त नहीं होगा. तो चलिए आपको बिना किसी देरी के तुलसी से संबंधित कुछ जरूरी नियमो के बारे में बता देते हैं.

रविवार को नहीं देते तुलसी को पानी: दोस्तों आपको एक बात का विशेष ध्यान रखना हैं कि तुलसी के पौधे को घर में कभी सूखने नहीं देना हैं. इसके लिए आपको इन्हें रोजाना नियम से पानी देना चाहिए. तुलसी का पौधा जितना अधिक हरा भरा रहेगा आपके घर उतनी ही ज्यादा सुख, शांति और सम्रद्धि रहेगी. हालंकि वास्तु के नियमों के अनुसार हमें तुलसी को रविवार के दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए. इसलिए आप रविवार को छोड़ हर दिन तुलसी को जल चढ़ाए.

तुलसी की पूजा का रखे ध्यान: चुकी हम तुलसी जी को देवी का रूप मानते हैं इसलिए आपको रोजाना उनकी पूजा भी करणी चाहिए. तुलसी के समक्ष आपको घी का एक दीपक प्रज्वलित करना चाहिए. साथ ही इनके आगे अगरबत्ती भी घुमाना चाहिए. इस तरह तुलसी जी आप से हमेशा प्रसन्न रहेगी और आपको कई सारे लाभ देगी. एक बात का और ध्यान रखे कि तुलसी के पत्ते कभी भी शिवजी और गणेश जी को नहीं चढ़ाए. पौराणिक कथाओं में ऐसा करने से मना किया गया हैं.

तुलसी के सूखने पर करे ये काम: यदि आपके घर में लगी तुलसी सुख जाए तो उसे कहीं भी ऐसे ना फेंके. बल्कि इसे बाकायदा किसी बहते पानी में ठंडा करे. इसके बाद आप उसी गमले में दूसरा नया तुलसी का पौधा लगा दे. इस तरह आपके घर तुलसी माता की कृपा हमेशा बनी रहेगी.

इस दिन ना तोड़े तुलसी के पत्ते

दोस्तों तुलसी के अंदर कई सारे औषधीय गुण होते हैं. इसका इस्तेमाल कई तरह की बिमारियों से छुटकारा पाने के लिए भी किया जाता हैं. तुलसी के सेवन से आपका इम्यून सिस्टम (रोग प्रतिरोधक क्षमता) भी बढ़ती हैं. ऐसे में हमें आए दिन तुलसी के पत्तो को तोड़ कर खा लेना चाहिए. हालाँकि वास्तु के नियम के अनुसार हमें भूलकर भी रविवार, एकादशी और ग्रहण के दिन तुलसी के पत्ते को नहीं तोड़ना चाहिए. साथ ही शाम के समय भी तुलसी तोड़ने पर मनाही हैं. यदि आप ऐसा करते हैं तो तुलसी माता नाराज़ हो सकती हैं और आपके घर कोई मुसीबत भी आ सकती हैं.