जनवरी माह के 9 से 14 तारीख तक गलती से भी नहीं करना ये काम वरना जीवन भर पड़ेगा पछताना

हर व्यक्ति जानता है की जहां सुख है वहाँ दुख भी जरूर होगा मगर फिर भी हर कोई इस प्रयास में रहता है की उसके जीवन में कभी दुख का समय ना आए। हालांकि वह प्रयास भी यही करता है की उसके जीवन में या फिर उसके घर परिवार वालों पर कभी कोई विपत्ति या संकट या दुख की घड़ी नहीं आने पाये मगर नियति को मंजूर होता है वही होता है। वैसे तो आमतौर पर हर इंसान शुभ व अशुभ दोनों में काफी विश्वास रखता है और हिन्दू धर्म के लोग ज्योतिष शास्त्र पर भी काफी अस्था रखते है। ज्योतिष शास्त्र में ऐसे कई उपाय व तरीके दिए हुए है, जिनका अनुसरण कर हम अपने जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन कर सकते है।

यदि आप भी शुभ व अशुभ और ज्योतिष शास्त्र में विश्वास रखते है, तो ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, इस नए वर्ष 2019 में कुछ अशुभ पल आने वाला है, जिस दौरान किसी भी प्रकार का किया गया शुभ कार्य सफल नही होगा। यदि आप भी कोई शुभ कार्य करने की सोच रहे है तो थोडा ठहरिये। ज्योतिष की माने तो पंचक आरम्भ होने वाला है। जो 9 जनवरी दिन बुधवार को दोपहर 1 बजकर 16 मिनट से शुरू होकर 14 जनवरी दिन सोमवार 2019 को दोपहर 12 बजकर 53 मिनट तक रहेगा। पंचक की इस अवधि में यदि आप किसी भी प्रकार का शुभ कार्य करने का प्रयास करेंगे, तो यह आपके लिए विपरीत ही साबित होगा। पंचक के दौरान निम्न बातो पर विशेष ध्यान दे, जो ज्योतिष शास्त्र में बताये गए है।

 

भूल से भी नहीं करें ये गलतियाँ

  • जब पंचक की अवधि प्रारम्भ हो जाए तो उस दौरान भूलकर भी लकड़ी, तेल, ईधन, छप्पर, आदि वस्तुओं को न ख़रीदे।
  • यदि आप पंचक की अवधि में घर की मरम्मत करवाने की सोच रहे है, तो यह कार्य भी इस अवधी में करना मना है। तो इस अवधी में घर की मरम्मत ना करवाये तो ही बेहतर है।
  • इसके अलावा आपको यह भी बताते चलें की घर के सामान भी पंचक के दौरान मरम्मत नही करवाना चाहिए जैसे की पलंग, खटिया, कुर्सी और सोफा जैसे आदि चीजो को बनाने या सुधारने के कार्य इस दौरान नहीं करवाना चाहिए।
  • ज्योतिष शास्त्र में पंचक को दौरान किसी भी नई नवेली दुल्हन को लाने या विदाई करने का सख्त प्रतिबंध है। तो इस अवधि के दौरान किसी भी दुल्हन की विदाई न करे।

  • आपकी जानकारी के लिए बता दें की यदि आप पंचक की अवधि में किसी प्रकार का नये काम को आरंभ करने की सोच रहे है तो यह भी ज्योतिष शास्त्र में मना किया गया है। अतः इस अवधि के दौरान कोई भी नया कार्य आरम्भ न करे।
  • पंचक के दौरान किसी भी प्रकार की जमीन, जायदाद, नये या पुराने वाहन आदि वस्तुओं को ना तो खरीदे और ना ही बेचे। ज्योतिष में भी इस अवधि के दौरान ये कार्य करना शुभ नही माना गया है।

यह भी पढ़ें :