कान में जमी मैल को हटाने के ये हैं घरेलू तरीके, सुनने की शक्ति हो जाएगी पहले से भी तेज

हम और आप अक्‍सर अपने कान में खुजली का अनुभव करते हैं और कान का मैल साफ करने के लिए रूई या दियासलाई का उपयोग करते हैं। लेकिन कान का मैल साफ करने के घरेलू उपाय भी होते हैं जो कि हमारे कान को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। चिकित्‍सकों के अनुसार आपके कानों को साफ करने का वास्‍तविक कारण इयरवैक्‍स का अत्‍याधिक निर्माण है। यही हमारे कान का मैल होता है। यह आपकी सुनने की क्षमता को आंशिक रूप से कम कर सकता है। इसके अलावा मैल की मौजूदगी आपके कान में दर्द, खुजली और कान बहना जैसी समस्‍याओं का कारण बन सकता है।

अक्‍सर देखा जाता है कि जब कान की सफाई की जाती है तो इससे भूरे रंग का पदार्थ निकलता है। यह कान का मैल होता है। लेकिन कान का मैल या ईयरवैक्‍स का बनना एक सामान्‍य और प्राकृतिक प्रक्रिया है। कान में मैल बनना आपके कान के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए जरूरी होता है। सामान्‍य परिस्थितियों में यह आपके कान से स्‍वयं ही साफ हो जाता है।

जैसा की आप जान चुके हैं कि कान का मैल आपके कान की सुरक्षा के लिए प्राकृतिक रूप से बनता है। लेकिन अत्‍याधिक मात्रा में यदि इसका निर्माण हो रहा हो तो यह आपके कान को नुकसान पहुंचा सकता है। सीरमेन अशुद्धता के अलावा भी कई बहुत से ऐसे कारण हैं जिनके कारण कान में मैल जमा हो जाता है। यह यूस्‍टाचियन ट्यूबों में वायु प्रवाह अवरोध के परिणामस्‍वरूप, कान के अंदर दबाव विचलन, साइनस समस्‍याओं और सर्दी के परिणामस्‍वरूप आ सकता है|आज हम आपको कानों की सफाई करने के लिए कुछ उपाय बताने जा रहे हैं जिसे अपनाकर आप आसानी से अपने कानों को साफ रख सकते हैं तो आइए जानें

पहला उपाय

नमक का पानी कान के मैल को हटाने का सबसे अच्‍छा घरेलू उपाय है। यह कान के अंदर मौजूद मैल को नरम बनाता है जिससे इसे साफ करना आसान हो जाता है|इसके लिए आप आधा कप गर्म पानी में एक चम्मच नमक मिला लें और इस पानी में रुई भिगोकर रुई से कान में पानी डाले। इसे कुछ देर कान में रहने दे। और बाद में कान को उल्टा करके पानी बाहर निकाल ले। इससे नमक के पानी के साथ कान में जमी गंदगी भी बाहर आ जाएगी।

दूसरा उपाय

आप अपने कान का मैल निकालने के लिए जैतून के तेल का उपयोग कर सकते हैं। इसका उपयोग करने की सलाह इसलिए भी दी जाती है क्‍योंकि इसके औषधीय गुण आपके कान की झिल्‍ली को संक्रमण से बचाने में मदद करते हैं। जैतून के तेल का उपयोग कर कान में मौजूद मोम को नरम करने और बाहर निकालने का प्रभावी तरीका हो सकता हैकान में जैतून तेल का उपयोग करने से पहले इसे हल्‍का गर्म करें और किसी ड्रोपर की सहायता से कान में 3-4 बूंदें डालें। इसे 10 मिनिट तक कान में रहने दें ताकि कान का मौम नरम हो जाए। फिर अपने कान को नीचे की ओर झुकाएं और इसे बाहर निकलने दें। आप विकल्‍प के रूप में सरसों के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं।

तीसरा उपाय

आप चाहे तो इसके लिए आप एक और उपाय अपना सकते हैं आपको अपने कान में बेबी आयल की कुछ बूंदें डालकर कुछ देर तक ऐसे ही रखनी होंगी जिसके बाद रुई की सहायता से कानों की साफ सफाई करें। इससे कान की गंदगी नरम होकर बाहर आ जाएगी।