कादर खान के फैंस के लिए बुरी खबर,अस्पताल में क्रिटिकल कंडीशन में हुए भर्ती ,डॉक्टर ने कह दिया अब ..

पिछले कई सालों से कादर खान अपनी बीमारियों से लड़ रहे है. इन्हें आखिरी बार लाइमलाइट में फिल्म ‘हो गया दिमाग का दही’ के प्रमोशन के वक़्त देखा गया था बल्कि उस वक़्त भी उन्हें कई तकलीफों जैसे बोलने और चलने का सामना करते हुआ देखा गया था| लंबे समय से वह कनाडा में अपने बेटे सरफराज़ और बहू शाइस्ता के साथ रह रहे थे और अब बेटे सरफराज़ ने उनकी तबीयत के बारे में जानकारी दी है| कादर खान की बिगड़ी हुई सेहत की खबर आते ही उनके फैंस दुखी हो गए और उनके जल्दी ठीक होने की दुआ मांगने लगे| अभिनेता कादर खान की उम्र 81 साल है|

कादर खान की हालत काफी नाजुक बनी हुई है। उनको बाईपैप वेंटीलेटर पर रखा गया है। उनकी सेहत के बारे में जानकारी बेटे सरफराज ने दी है। सरफराज ने कहा कि डॉक्टरों की एक टीम लगातार उन पर लगतार निगरानी रखे हुए है, लेकिन उनको सांस लेने में तकलीफ हो रही है, जिसके बाद कादर को वेंटीलेटर पर रखा गया है।वह निमोनिया से भी जूझ रहे हैं और उन्होंने बात करना भी बंद कर दिया है। वह लंबे समय से प्रोग्रेसिव सुप्रान्यूक्लीयर पाल्सी डिसऑर्डर से जूझ रहे हैं। इस बीमारी की वजह से उनको बोलने, खाने को निगलने, देखने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

क्या है पीएसपी

पीएसपी का फुल फॉर्म प्रोग्रेसिव सुप्रान्यूक्लीयर पाल्सी होता है। ये एक तरह का असामान्य मस्तिष्क विकार है जो शरीर की गतिविधियों, जैसे- चलने के दौरान बनने वाले संतुलन, बोलने, निगलने, देखने, मनोदशा और व्यवहार के साथ सोच को प्रभावित करता है। यह डिसऑर्डर मस्तिष्क  में नर्व सेल्स के खत्म होने के कारण होता है। यही प्रोग्रेसिव सुप्रान्यूक्लीयर पाल्सी बॉलीवुड के अभिनेता कादर खान को हो गया है। इसी के चलते उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया |

गौरतलब है की पिछले साल कादर खान का घुटने का ऑपरेशन हुआ था लेकिन बदकिस्‍मती से वह गलत हो गया. जिससे उनकी तकलीफ घटने की जगह और बढ़ गई. सर्जरी के बाद वो कभी चले ही नहीं. सरफराज ने बताया कि डॉक्‍टर उन्‍हें चलने की कोशिश करने के लिए कहते थे लेकिन उन्‍होंने कभी कोशिश नहीं की|

कादर खान एक ऐसी शख्सियत है जिन्‍होंने पर्दे पर कई किरदारों को जीवंत किया. कभी विलेन बनकर लोगों को डराया तो कभी अपनी कॉमेडी से दर्शकों को खूब हंसाया. कादर खान ने 300 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय और सवांद लेखन का काम किया| अपनी बुलंद आवाज़ और कमाल की कॉमिक टाइमिंग के लिए जाने जाने वाले कादर खान ने कई सुपरहिट फिल्में दी|साल 2013 में कादर खान को उनके फिल्मों में योगदान के लिए साहित्य शिरोमनी अवार्ड से नवाजा गया था|

 

कादर खान की पुरानी और अब की तस्वीर से आप इस बात का आसानी से अंदाजा लगा सकते हैं कि अब कादर खान जिंदगी के किस पड़ाव पर हैं।कादर खान एक अभिनेता होने के साथ-साथ राइटर का भी काम किया करते थे।लेकिन अब कादर खान न तो ठीक से बोल पाते हैं, न ही खाना खा पाते हैं और अब तो वे किसी को पहचान भी नहीं पा रहे है |