महिलाएं जरूर पढ़ें, गलती से भी ना करे इस चीज़ का अधिक मात्रा में सेवन वरना समय से पहले बंद हो जायेंगे पीरियड

उम्र के साथ साथ महिलाओं में कई तरह के परिवर्तन होते हैं। 10-12 साल से महिलाओं में मासिक चक्र की शुरुआत हो जाती है जो 50 वर्ष चलता है। लेकिन 50 तक पहुंचते पहुंचते यह चक्र बंद होने लगता है और महिलाओं की इसी स्थति को मेनोपॉज के नाम से जाना जाता है। यह कोई रोग नहीं है बल्कि शरीर की एक सामान्य प्रक्रिया है जिससे होकर एक उम्र के बाद हर महिला को गुज़ारना पड़ता है। इस स्थिति के बाद समस्त प्रजनन क्रियाशीलता समाप्त हो जाती है या कहें कि मासिक चक्र के बंद हो जाने के बाद महिला के गर्भ धारण करने की सारी संभावनाएं समाप्त हो जाती हैं|लेकिन जब किसी महिला के मासिक धर्म जल्दी ही बंद होने लगते हैं तो उसे काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता हैं

लेकिन ऐसा क्यों होता हैं ये बात आप भी जरूर सोच रहे होंगे लेकिन हम आपको बता दें कि ये सब हमारे खानपान व पूरे दिन की दिनचर्या पर निर्भर करता हैं कि हम क्या खाते हैं और कैसे उठते बैठते हैं पूरे दिन क्या करते हैं ये सब कुछ उन सब चीज़ों पर पूरी तरह से निर्भर करता हैं तो आइए आज इस पोस्ट में हम आपको बताते हैं कि किसी महिला को किस चीज़ का कभी भी ज्यादा मात्रा में सेवन नही करना चाहिए|

एक बहुत बड़ी व ये आश्चर्य चकित बात हैं जिसे बहुत ही कम लोग जानते हैं- ब्रिटेन में हुए एक शोध के अनुसार ज्यादा चावल खाने वाली महिलाओं को ऑस्टियोपोरोसिस और दिल की बीमारियाँ होने का खतरा बढ़ जाता है एवं इसी रिसर्च में ये भी सामने आया कि महिला के मासिक धर्म को भी ये बहुत बुरी तरह प्रभावित करते हैं।

जब कभी हम खाना खाते हैं तो कई बार ऐसा होता हैं कि हम रोटी की जगह चावल की मात्रा ज्यादा लेना पसन्द करते हैं जिसके कारण ही हमारे शरीर को काफी नुकसान पहुँचता हैं ये जरूरी नही हैं कि प्रभाव सिर्फ़ मासिक धर्म पर ही पड़े चावल की अधिक मात्रा में सेवन करने से और भी बहुत सी परेशानियां होती हैं मासिक धर्म मे अनियमितता आने से महिलाओं में चिड़चिड़ापन व शारिरिक-मानसिक परेशानी होने लगती हैं|

यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स में प्रोफेसर जानेट केड की मानें तो मीनोपोज का कुछ महिलाओं के लिए सेहत पर गंभीर प्रभाव पड़ सकता है. इससे पहले भी कई रिसर्च में पाया गया है कि समय से पहले मेनोपॉज से हड्डी का घनत्व कम होने, ऑस्टियोपरोसिस होने और दिल की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है. जबकि मेनोपॉज देर से होने से बेस्ट, कैंसर और अंडाशय कैंसर होने का जोखिम भी बढ़ जाता है.

लेकिन जैसे ताला बनाते समय उसकी चाभी बनाई जाती हैं या यूं कह ले कि अगर ताला हैं तो चाभी भी जरूर हैं तो इसी प्रकार ये परेशानी हैं तो इसका इलाज भी हैं बस कोशिश ये करो कि जितना हो सके उतना कम से कम चावल खाये और पास्ता जैसी चीज़ों से तो दूरी बना के ही रखे इसलिए सदैव ध्यान रखियेगा कि अधिक चावल यानी बीमारी को न्योता, इसके अलावा हाल ही में हुए रिसर्च रिपोर्ट में पता चला है कि सेहतमंद चीजें जैसे ऑयली फि‍श और ताजी फलियां जैसे कि मटर और हरी बींस खाने से मेनोपॉज की समस्या से बचा जा सकता है.