मथुरा में भैंस ने दिया ऐसे अद्भुत बच्चे को जन्म, देखने के बाद लोगों ने जो किया जानकर होगी हैरानी

आज का जमाना आधुनिक हो चुका है इसलिए लोगों की सोच भी कई मामले में आधुनिक हो चुकी है वहीं अगर बात करें सोशल मीडिया की तो आए दिन कुछ ना कुछ ऐसी खबरें सामने आती हैं। जैसे सुनने के बाद यकीन करना मुश्किल सा हो जाता है कभी-कभी तो इन खबरों को सुनकर ऐसा लगता है कि लोग आज भी इस तरह की बातों पर विश्वास करते हैं वैसे आज ऐसी खबर सामने आई है जो बेहद ही हैरान कर देने वाली है।

दरअसल आपको बता दें कि यह मामला मथुरा का है जहां कुछ ऐसा हुआ कि लोग अचंभित हो गए और कुछ लोग उसे भगवान का चमत्कार मानने लगे समझ तो यह नहीं आता है कि जब लोगों को कुछ नहीं सोचता तो वह अंधविश्वास के नाम पर भगवान के चमत्कार मानकर उसे पूछने तक लगते हैं लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता कि इसके पीछे भी कुछ वैज्ञानिक कारण छिपा होता है हर चीज को अंधविश्वास का सहारा लेकर आगे नहीं बढ़ना चाहिए इसलिए मामले को अच्छे से जान लेना चाहिए आज हम आपको जिस खबर के बारे में बताने जा रहे हैं।

वह यह है कि मथुरा में एक भैंस ने अपने बच्चे को जन्म दिया लेकिन अचंभित की बात यह हुई कि वह सामान बच्चा नहीं था जी हां इस तरह की खबरें आपने पहले भी कई बार सुनी होंगी लेकिन आप जैसा की तस्वीरों में देख सकते हैं कि यह भैंस का बच्चा सामान्य नहीं है। दरअसल आपको बताते चलेगी इस भैंस ने 8 पैर वाले बच्चे को जन्म दिया है जिसे देखने के लिए लोग बड़ी दूर दूर से आ रहे हैं। बता दें कि मथुरा के होली गेट इलाके में स्थित कोयला वाली गली में लकी यादव रहते हैं।

इस व्यक्ति का मानना है कि उसने अपने घर में एक भैंस पाल रखा था जो कि गर्भवती थी उसके उसके बाद उस मैच में बुधवार की रात 11:00 बजे 8 पैर वाले बच्चे को जन्म दिया जिसे देखकर यादव भी हैरान रह गया और फिर बिना देर किए तुरंत आनन-फानन में डॉक्टर को अपने घर बुलाया जिसके बाद के बाद के बाद डॉक्टरों ने बताया कि बच्चे की स्थिति देखकर यही लगता है कि ज्यादा दिनों तक जीवित नहीं रहेगा।

वहीं भैंस के मालिक का कहना है का कहना है कि फिलहाल अभी तक तो बच्चा ठीक है लेकिन आगे ऊपर वाले की जो मर्जी होगी वही होगा। इसके अलावा उनका कहना है कि 8 पैर होने के नाते बच्चे को खड़े होने में काफी दिक्कत हो रही है जिस वजह से वह अपनी मां का दूध नहीं पी पा रहा है। इसलिए उसे प्लास्टिक के निप्पल से दूध पिलाया जा रहा है।

लेकिन वहीं दूसरी तरफ वहां के स्थानीय लोग इस 8 पैर वाले बच्चे के बारे में जानकर काफी उत्साहित हैं एवं इसे ईश्वर का चमत्कार मान रहे हैं और उसके दर्शन करने आ रहे हैं । हैरानी तो इस बात की होती है कि इस आधुनिक जमाने में आज भी लोग ऐसी सोच रखते हैं और किसी की इस तरह की घटना को देखकर भगवान का चमत्कार समझने लगते हैं।

यह भी पढ़े :

इस रहस्यमयी शिव मंदिर के कारीगर बन गए थे पत्थर, जानिए क्या थी वजह

अजब गजब: ये है सबसे अनोखा शहर, यहां जमीन के नीचे घर बनाकर रहते हैं लोग