शिवपुराण के अनुसार जो महिला घर में करती है ये 5 काम, जिंदगी भर पैसों के लिए तंग रहता है उसका पति

भारतीय संस्कृति में घर की बहु-बेटी को देवी लक्ष्मी का रूप माना जाता है। ऐसे में उनके शुभ कर्मों और लक्षणों से घर में सुख-समृद्धी हमेशा बनी रहती है । इसीलिए हमारे यहां हर शुभ काम घर की लक्ष्मी यानी बहु और बेटी को विशेष महत्व दिया जाता है। पर इसके साथ घर की गृह लक्ष्मी के उचित-अनुचित कर्म का भी फल घर के सुख-सौभाग्य पर पड़ता है। इसलिए घर में मां लक्ष्मी की कृपा बने रहने के लिए आवश्यक है कि घर की लक्ष्मी कुछ बुरे या अशुभ कर्मों से बचे रहे।

आज हम महिलाओं की कुछ गलतियां बताने वाले हैं जो उन्हें नहीं करने चाहिए वरना घर की बर्बादी शुरू हो जाती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि विवाह के बाद पति और पत्नी दोनों की भाग्य एक दूसरे से जुड़ जाते हैं|अगर दोनों में से कोई एक कोई बुरा या अच्छा कर्म करता है तो उसका फल दोनों को बराबर भुगतना पड़ता है। तो आइए जानते हैं वह गलतियां जो महिलाओं को नहीं करना चाहिए।

कड़वी बाते करना

अगर पत्नी के मुंह से हमेशा कड़वी बातें ही निकलती हो या वह हमेशा दूसरों को दुखी ही रहना चाहती हो तो यह पति के भाग्य के लिए बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बात है। ऐसी पत्नी अपने पति के लिए कभी भी भाग्यशाली नहीं होती है। उनके आते हुए धन को और यश को भी वह नष्ट कर देती है।

देर तक सोना

जिनकी पत्नी ब्रह्म मुहूर्त में न उठकर सुबह बहुत देर तक सोई रहती है उन के पतियों को भी भाग्य का साथ नहीं मिलता है। उस घर में कभी भी लक्ष्मी माता का प्रवेश नहीं होता है।

भूख से ज्यादा खाना

जिस घर की पत्नी अपनी भूख से भी ज्यादा खाती है और हमेशा खाती रहती है ,खाना को झूठे हाथ से छूती है या खाना खाने से पहले पूजा नहीं करती है। और नशा करती है उनकी पत्नियां भी उनके लिए दुर्भाग्यपूर्ण होती है।

रोज स्नान न करना

जिनकी पत्नियां रोज स्नान नहीं करते और गंदगी पसंद होती है उनके पतियों को भी कभी भी भाग्य पूर्ण भविष्य नहीं मिलता है। वहां उस घर में कभी नहीं माता लक्ष्मी का वास नहीं होता है।

उचित साफ सफाई न करना

जिनकी पत्नियां घर में सफाई नहीं रखती घर को गंदा रखती और सामान इधर-उधर अस्त- व्यस्त रहती है उनके घर में भी माता लक्ष्मी कभी नहीं आती है।

इसके अलावा भी  कुछ काम है जिन्हें महिलाओं को नहीं करना चाहिए जैसे की

घर की दहलीज  बैठे कर भोजन करना

इसके साथ ही गृहलक्ष्मी को घर की दहलीज पर कभी नहीं बैठना चाहिए और ना ही यहां बैठकर भोजन आदी करना चाहिए .. क्योंकि शास्त्रों में घर की दहलीज को विशेष स्थान दिया गया है .. मान्यता है कि यहीं से घर में देवी लक्ष्मी का प्रवेश होता है .. ऐसे में इस स्थान पर बैठना उचित नहीं माना जाता है।

रसोई में जूठे बर्तन रख कर सोना

घर की महिलाएं अगर रात में रसोई घर में जूठे बर्तन रखकर सोती हैं तो यह गरीबी को दावत देते जैसा है। ऐसा न होने दें।

शाम या रात को झाड़ू लगाना

जिस घर की महिलाएं प्रातः काल के बजाय रात या शाम को झाड़ू लगाती हैं उस घर में दरिद्रता आती है। इसलिए इस आदत को बदवायें।

फिजूल खर्च करना

घर की तरक्की महिलाओं के हांथों में होती है ऐसे में जो महिलाएं बिना सोचे समझे फालतू पैसे खर्च करती है ऐसे घर में कभी भी बरकत नहीं होती |इसीलिए पत्नियों को चाहिए की वे हमेशा पैसों का  सही इस्तेमाल करें|