देवउठनी एकादशी और सोमवार का महासंयो, एक लोटा दूध से करें उपाय माता लक्ष्मी दोनों हाथों से बरसाएंगी धन

जैसा की हम सभी जानते हैं की कार्तिक माह चल रहा है और इस माह में शुक्ल पक्ष की एकादशी के दिन देवउठनी या प्रबोधनी एकादशी मनाया जाता है। इस बार देवउठनी एकादशी 19 नवंबर को यानि की आज है। इस महीने में खासतौर पर विष्णु पूजन किया जाता है। इतना ही नहीं कहा जाता है की इस दिन को ही भगवान विष्णु चार माह के विश्राम के बाद जागे थे। इस दिन भगवान विष्णु के आगमन के खुशी में उनकी पुजा माँ लक्ष्मी के साथ किया जाता हैं और विष्णु भगवान के जागने का आह्वान किया जाता हैं।

देवउठनी एकादशी का बहुत ज्यादा महत्व है इस दिन सच्चे मन से भगवान विष्णु की पूजा करने से कई तरह की समस्याएं खत्म हो जाएंगी। इतना ही नहीं मान्यता तो ये भी है की देवउठनी एकादशी पर तुलसी दर्शन करने, स्पर्श करने, कथा कहने, नमस्कार करने, स्तुति करने, तुलसी रोपण, जल से सींचने और प्रतिदिन पूजन-सेवा आदि करने से हजार करोड़ युगपर्यंत विष्णुलोक में निवास करते हैं। इस बार की देवउठनी एकादशी और सोमवार का गजब का संयोग बन रहा है इसलिए इस बार ये और भी ज्यादा खास है।

इस दिन क्षीरसागर में शयन कर रहे श्री हरि विष्णु को जगाकर उनसे मांगलिक कार्यों केे आरंभ करने की प्रार्थना की जाती है। देवउठनी ग्यारस पर मंदिरों व घरों में भगवान लक्ष्मीनारायण की पूजा-अर्चना की जाती है। मंडप में शालिग्राम की प्रतिमा एवं तुलसी का पौधा रखकर उनका विवाह कराया जाता है।  इस शुभ दिन में कुछ उपाय भी बताए गए हैं जिसे करने से भगवान विष्णु आपके जीवन के सभी कष्टों को दूर कर देंगे।  तो आज हम आपको वहीं उपाय बताने जा रहे हैं

इस दिन सुबह सुबह उठकर स्नान ध्यान करके विधि विधान से भगवान विष्णु को उठाकर तुलसी विवाह भी करता है और साथ ही व्रत भी करता है तो उसे 12 माह की पूरी एकादशी का फल प्राप्त होता है। और उस व्यक्ति के जन्म जन्मांतर तक सभी कष्ट दूर हो जाते हैं।

इसके अलावा आपको बताते चलें की अगर इस दिन आप व्रत रखकर विधिवत तुलसी विवाह करते हैं और उन्हें अपने घर में ही स्थापित करते हैं तो आपकी सारी समस्या दूर हो जाएंगे और भगवान की कृपा भी बरसती रहेगी।

इस दिन अपने घरों में गन्नों के मंडप बनाकर श्रद्धालु भगवान लक्ष्मीनारायण का पूजन कर उन्हें बेर,चने की भाजी, आंवला सहित अन्य मौसमी फल व सब्जियों के साथ पकवान का भोग अर्पित किया जाता है। इसके बाद मण्डप की परिक्रमा करते हुए भगवान से कुंवारों के विवाह कराने और विवाहितों के गौना कराने की प्रार्थना की जाती है।

अगर आपके घर में आर्थिक तंगी हैं और आपपर बहुत कर्ज हो चुका है तो आप ये दूध का उपाय आज के दिन कर लें जी हां इसके लिए आपको एक लोटा दूध लेना होगा उसे अपने सिर के पास या फिर पलंग के नीचे रखकर सो जाएं और अगले दिन मंगलवार के दिन स्नान ध्यान करके दस दूध को किसी भी बबूल के पेड़ में डाल दें ऐसा करने से आपके जीवन की आर्थिक समस्या दूर तो होगी ही इसके साथ ही साथ माता लक्ष्मी भी आप पर सदा अपनी कृपा बनाई रहेंगी।