20 साल बाद इस शख्स ने अपने चेहरे से हटाया पर्दा, जिसे देखते ही लोगों के उड़ गए होश

इस दुनिया में भगवान् ने बहुत सी चीज़े बनायीं है और उन सब की देखभाल करने के लिए भगवान् ने इंसान को बनाया है| इस दुनिया में इंसान एक मिटटी के खिलौने की तरह है जो की किसी भी समय टूट सकता है| और कभी कभी तो इंसान के साथ ऐसी दर्दनाक घटना हो जाती है जिसके बारे में सोच कर भी हमारा रूह काप उठता है| और किसको इस दुनिया में क्या हो जायेगा ये तो किसी को पता नही होता ये सब तो उसकी किस्मत का खेल होता है| किस इंसान के साथ कब क्या हो होगा कोई नहीं जानता। चाहे वो कितना भी आमिर हो या गरीब सभी की किस्मत भगवान् के हाथ में होती है|

आज हम आपके लिए एक ऐसी ही खबर लेकर आये हैं जिसके बारे में जानकार आप का भी दिल दहल जायेगा| दोस्तों इस ज़िन्दगी का कोई ठिकाना नही होता कब आपकी जिंदगी में कौन सा बदलाव आ जाए इस बात की खबर किसी को नहीं होती। कुछ ऐसा ही इस शख्स के साथ हुआ जिसने उसकी पूरी जिंदगी बदल कर रख दी। आपको बता दे की इस शख्स के साथ कुछ ऐसा हुआ था जिसके बाद उसने पूरी जिंदगी अपने चेहरे को छुपा कर रेखा था| और जब लगभग 20 सालों के बाद जब उसने अपने चेहरे से पर्दा को हटाया तो दुनिया उस्करे इस चेहरे को देखकर हैरान रह गई।

ये कहानी एक ऐसे शख्स की है जो की बांग्लादेश का रहने वाला है और उसका नाम हश्मोत अली है जिसके साथ लगभग २० साल पहले एक घटना हो गयी थी जिसने उसकी पूरी ज़िन्दगी ही चौपट कर दी| जानकारी के मुताबिक आज से लगभग 22 साल पहले हश्मोत पर एक बाघ ने जोरदार हमला कर दिया था। इस हमले के दौरान उसके चेहरे के पूरा नक्शा बदल गया हांलाकि उस हमले में उसकी जान तो नहीं गई लेकिन बाघ के ने ऐसा अटैक किया जिसके बाद से उसके चेहरे का हाल बिलकू खराब हो गया और देखने लायक नही रह गया|

अब आइये आपको हाश्मोट की पूरी कहानी के बारे में बताते है तो दरअसल आपको बता दे की आज से लगभग 22 साल पहले हश्मोत अपने दोस्तों के साथ जंगल में शहद इकट्ठा करने गया था। इस बीच अचानक हश्मोत को नींद आ गई और वो नांव में सो गया। और इस दौरान एक बाघ ने उस पर हमला कर दिया और बाघ ने अपना पंजा सीधे हाश्मोत के चेहरे पर मारा जिससे उसके चारे का उस हिस्से का मांस निकल कर बहार आ गया और उसका चेहरा खराब हो गया और उस हिस्से के मांस को चेहरे से अलग कर दिया। इस हमले में बुरी तरह घायल हश्मोत इलाज के लिए अस्पताल पहुंचे,जहां उसकी जान तो बच गई,लेकिन अब वो चेहरा दिखने लायक नही बचा|

और इसके बाद से वो अपना एक तरफ का चेहरा रुमाल से बंधकर रखने लगा| ताकि वो दिनिया के सामने जी सके और उसकी बीइज़्ज़ाति न हो|  इस हादसे की वजह से हाश्मोत ने 20 साल तक अपना चेहरा दुनिया से छिपाकर रखा था। वो नहीं चाहता था कि दुनिया उसके इस रूप को देखें। उसे चिंता थी कि कही लोग उसे देखकर डर न जाए। आपको बात दे की हाश्मोत तीन बच्चों का पिता है और मछली बेचकर अपना घर चलाता है। उसके इस भयानक चेहरे की वजह से उसकी बेटी के रिश्ते में रूकावट आ रही थी।