तीन लोगो के साथ सुहागरात मनाने के बाद इस 20 साल की लड़की ने किया ऐसा शर्मनाक काम , जिसे जानकर दंग रह गया पूरा शहर

इस दुनिया में पति पत्नी का रिश्ता सभी रिश्तो में सबसे पवित्र और अनमोल रिश्ता  माना जाता  है |पवित्र अगि्न को साक्षी मानकर लिए गए सात फेरे जिंदगी का अहम हिस्सा होते हैं जिसमें प्यार, संयम, समझदारी के साथ जिंदगी भर साथ निभाने का वादा होता है। लेकिन कभी कभी इस पवित्र रिश्ते को भी  कुछ लोग शर्मसार कर देते है |

अभी हाल ही में एक मामला सामने आया था जिसमे एक एक लुटेरी दुल्हन कई लोगो के साथ ठगी  खेला था लेकिन फिर जब उसकी असलियत सामने आई तो उसे गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन इसके बाद भी यह मामला रुकने का नाम ही नही ले रहा है और आज एक बार फिर से एक नया मामला सामने आया है जिसमे एक बार फिर से वही ठगी का काम किया गया है|

दरअसल ये मामला है  डूंगरपुर के गोल मार्केट जहाँ के मूल निवासी अनिल जैन ने 15 अप्रैल को रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया था कि अनिल के छोटे भाई अशोक कुमार जैन की शादी पिछले साल 17 जुलाई को बेलगांव (कर्नाटक) निवासी मैत्रावती से हुई थी।लेकिन मैत्रावती मात्र दो महीने ससुराल में रहने के बाद लाखों रुपये लेकर  फरार हो गई।

वही इस केस के रिपोर्ट दर्ज हो जाने के बाद 15 अप्रैल को ससुराल से भागी लुटेरी दुल्हन को पुलिस ने गुरुवार को डूंगरपुर से गिरफ्तार किया और  कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया।पुलिस के अनुसार बताया गया है की फर्जी शादी कर पैसे   ऐठने वाली दुल्हन कर्नाटक की नेत्रावती ने एक साल में दूसरी और 3 साल में 3 फर्जी शादियां कीं और करीब 10 लाख रुपए कमाए।

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन पूछताछ के दौरान लुटेरी दुल्हन ने  बताया, कर्नाटक स्थित उसके गांव में तो अधिकतर घरों में युवतियों  की ऐसी ही शादी होती है और वो शादी के बाद ऐसे ही ठगी का काम करती है |उसका कहना है की वे लोग पैसों के लालच में ससुराल बदलती रहती हैं और ये उनका पेशा है उसने यह भी बाताया की खुद  उसे भी उसकी मां कौशल्या ही इस धंधे में लेकर आई।

पुलिस के अनुसार हाल ही में लुटेरी दुल्हन अशोक जैन के साथ शादी कर कुछ समय तो उनके साथ रही, फिर 15 अप्रैल को भागकर कर्नाटक अपने गांव पहुंच गई।दोबारा दलाल से संपर्क कर डूंगरपुर के भरत जैन से 9 मई को 4.50 लाख रुपए लेकर शादी की। वहां से भी भागकर किसी और से शादी करने की तैयारी में थी लेकिन उससे पहले ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।वही इस मामले में मिली जानकारी के मुताबिक  मैत्रावती 17 साल की थी तब घर वालों ने रिश्तेदारों की पहचान पर समाज में सबके सामने पूरे रीती रिवाज से शादी की थी।

एक साल ससुराल में रही फिर तलाक हो गया। फिर मां के कहने पर दलालों से संपर्क बनाया और जावरमाइंस में अशोक जैन से शादी हुई। यहां पर करीब 5 लाख रुपए लिए। 15 अप्रैल को यहां से भागने के बाद कर्नाटक गई और पैसे घर पर दे दिए। डूंगरपुर में भी 4.50 लाख रुपए लेकर शादी की।इस तरह से इस दुल्हन ने लोगो को बेवकूफ बनाकर लाखों की ठगी की जिसके बाद वो आज सलाखों के पीछे है |