आज ही कर ले विष्णु भगवान के ये 3 दुर्लभ उपाय, हर बिगड़े काम चुटकियों में होंगे हल

ब्रह्मा, विष्णु और महेश. ये तीन ऐसे देवता हैं जिन्हें पुरे ब्रह्माण्ड का स्वामी कहा जाता हैं. इन तीनो की शक्तियां बाकी देवी देवताओं से कही ज्यादा होती हैं. यही कारण हैं कि इनकी पूजा अर्चना करने से बहुत जल्दी लाभ होता हैं. इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको विष्णु भगवान के कुछ ऐसे दुर्लभ उपाय बताने जा रहे हैं जिन्हें करने से आपके हर बिगड़े काम बहुत जल्दी और आसानी से पुरे हो जाएंगे.

जैसा कि आप सभी जानते हैं हिन्दू धर्म में सभी देवी देवताओं के लिए एक दिन फिक्स किया गया हैं. इसी कड़ी में गुरुवार के दिन विष्णु भगवान की पूजा करने का रिवाज़ है. इसलिए आज जो दुर्लभ उपाय हम आपको बताने जा रहे हैं उन्हें आपको सिर्फ गुरुवार के दिन ही करना चाहिए.

उपाय#1: गुरुवार के दिन एक केले का पत्ता ले आए. इस केले के पत्ते को साफ़ पानी से धोकर सुखा ले. अब इसे विष्णु भगवान की प्रतिमा के आगे रख दे. इस केले के पत्ते के ऊपर चावल की 3 ढेरी बनाए. इस हर एक ढेरी पर सिक्का रखे और उस हर सिक्के पर एक खड़ी सुपारी रखे. इसके बाद विष्णु भगवान को अपनी समस्यां या मनोकामना बताए. अब घी के दो दीपक प्रज्वलित करे. पहले दीपक को केले के पत्ते के ऊपर रखे दे और दुसरे दीपक से विष्णु भगवान की आरती करे. आरती समाप्त होने पर इसे पहले विष्णु जी को दे और फिर केले के पत्ते पर रखी सामग्री को दे. अगले दिन शुक्रवार को ये चावल कौओ को खिला दे और जो सिक्के आप ने इस्तेमाल किए थे इन्हें घर की तिजोरी में रख दे. इससे आपकी धन की बरकत बनी रहेगी. साथ ही आप ने जो मनोकामना पूजा के दौरान मांगी थी वो भी जल्द पूरी होगी.

उपाय#2: गुरुवार के दिन घर में हल्वा, खीर, पूरी, सब्जी इत्यादि बनाए और विष्णु भगवान को भोग लगाए. इसके बाद घर के सभी सदस्य मिलकर विष्णु भगवान की आरती करे. इसके बाद आपको ये प्रसादी सबसे पहले लाल रंग की गाय को खिलाना हैं. जब तक गाय ये प्रसादी ग्रहण ना कर ले तब तक घर का कोई भी सदस्य इसे ना खाए. गाय के प्रसादी खा लेने के बाद आप सभी मिलकर इसे ग्रहण कर सकते हैं. बस इस बात का ध्यान रहे कि इस उपाय में घर का हर सदस्य शामिल रहे. इस तरह आपके पुरे घर में सकरातक माहोल रहेगा और परिवार की उन्नति भी होगी.

उपाय#3: हर गुरुवार विष्णु भगवान के नाम का उपवास रखना सबसे लाभकारी माना जाता हैं. लेकिन ये उपवास बाकी उपवासों से थोड़ा अलग होता हैं. इस उपवास के दौरान आप दिन में एक बार भी अन्न ग्रहण नहीं करना हैं. आप सिर्फ पेय पदार्थ और फल का सेवन कर सकते हैं. इस दिन आपको नमक खाने से भी बचना हैं और किसी प्रकार का नशा भी नहीं करना हैं. यदि आप ने 5 गुरुवार तक लगातार ऐसा कर लिया तो आपकी हर मनोकामना जरूर पूर्ण होगी.

दोस्तों यदि आपको ये उपाय पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों साथ शेयर करना ना भूलिएगा.