सचिन तेंदुलकर के बाद अब इस भारतीय खिलाड़ी को लोग कह रहे है क्रिकेट का भगवान

हमरे भारत में जितने लोग फिल्मो के दीवाने है उससे कही ज्यादा क्रिकेट के दीवाने है और भारत में क्रिकेट को खेल नहीं बल्कि कुछ लोग तो इसे पूजा की तरह मानते है| और हमारे भारतीय बल्लेबाज़ भी किसी से कम नही है| वो भी अपने अच्छे प्रदर्शन से सबका दिल जीत लेते है| आये दिन सोशल मीडिया पर इनकी खबरे हमेशा सुनने को मिलती रहती है और जिसको जानने के लिए जनता बेताब रहती है|

खेल में क्रिकेट की अगर हम बात करे तो इससे जुड़ी कई ऐसी कहानियाँ हैं जिसे सुनकर ऐसा प्रतीत होता है है कि देश में क्रिकेट को न सिर्फ लोग एकतरफ़ा प्यार करते हैं बल्कि खुद खिलाड़ी भी इस खेल में पूरा जी जान लगा देते है| एक समय था जब लोग सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान मानते थे लेकिन  अब अब ये जगह हमारे भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ले लिया है और कहा जाता है कि धोनी के बिना तो कुछ भी नही|

आपको बता दे की भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और मौजूदा बल्लेबाज विकेटकीपर महेन्द्र सिंह धोनी ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर अर्न्तराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में एक खास मुकाम हासिल कर लिया है। और जब भी यह बल्लेबाज क्रिकेट के मैदान पर बल्लेबाजी करने आता है तो अच्छे अच्छे अच्छे गेंदबाजों के पसीने छूट जाते हैं| आपको बता दें कि माही यह उपलब्धि हासिल करने वाले सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे भारतीय बन गए हैं। भारत रत्न और मास्टर ब्लास्टर और सचिन तेंदुलकर ने सबसे पहले भारत में 4000 रन वन-डे पूरे किए थे। सचिन ने भारत में 164 मैचों में 48.11की औसत से 6976रन बना चुके हैं। आपको ये भी बता दे की उन्होंने अपने देश में 20 शतक और 38 अर्द्धशतक बनाए है।

इसके अलावा बतौर विकटेकीपर माही अब उनकी जगह ले चुके है और धोनी ने सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श बताते हुए उए बात कही है की जब हम छोटे थे तो हम सचिन तेंदुलकर को अपने सामने खेलते हुए देखते थे। और उस समय वे हम सबके लिए भगवान के समान थे। धोनी के मुताबिक, सचिन तेंदुलकर एक आदर्श रोल मॉडल हैं, क्योंकि आज वे इतनी कामयाबी के बावजूद भी विनम्र बने हुए हैं। धोनी ने ये सारी बातें अपने अमेरिका प्रवास के दौरान न्यूजर्सी में कहीं।

क्रिकेट जगत में जितना योगदान सचिन ने दिया है इतना शायद अब कोई भी न दे पाए और लोग आज  भी उमके मुकाम की मिसालें देते हैं| बहुत से खिलाड़ी आये और आकर चले गए लेकिन सचिन का रिकॉर्ड कोई नही तोड़ पाया वो जस का तस बना है शायद आज यही वजह है कि लोग आज  भी सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कह के बुलाते है|

लेकिन आज शायद आपको ये नकर हैरानी होगी कि सचिन तेंदुलकर से भगवान का ये दर्ज़ा लेने के लिए अब एक दुसरे भारतीय क्रिकेटर का नाम सुनने में रहा है और अब आप शायद ये सोच रहे होंगे की हम विराट की बात कर रहे है तो आप गलत है| अब आइये आपको बता ही डेट है की अगर वाकई क्रिकेट के खेल में अगर कोई भगवान का दर्ज़ा सचिन तेंदुलकर के बाद ले सकता है तो वो दरअसल कोई और नहीं बल्कि धोनी हैं| जिन्हें हम माहि के नाम से भी जानते है| जी हाँ वहीँ महेंद्र सिंह धोनी जो किसी भी हारते हुए मैच को यूँ जीता देते हैं मानो उनके ये उनके लिए तो ये बाएँ हाथ का खेल हो|