मोदी सरकार ने रिलायंस ग्रुप पर ठोका 10 हजार करोड़ का जुर्माना

यह खबर उन लोगों के लिए हैं जिनका यह सोचना है कि नरेन्द्र मोदी अदानी, अम्बानी के इशारों पर नाचते हैं। इस खबर को पढ़ने के बाद ऐसा सोचने वालों को करारा जवाब मिलेगा। देश के कुछ लोगों ने अपने मन में यह धारणा बना ली है कि नरेन्द्र मोदी सारे काम इनके कहने पर ही करते हैं। आपको बता दें मोदी सरकार ने ऐसा सोचने वालों के लिए अपने इस कारनामे से चुप करा दिया है।

555555-copy

 

 

रिलायंस समूह पर ठोका 10311.76 करोड़ रूपये का मुआवजा:

सरकार ने पिछले सात सालों से केजी बेसिन में रिलायंस और उसकी सहयोगी कंपनियों की दखलंदाजी के लिए 1.55 बिलियन डॉलर (लगभग 10311.76 करोड़ रूपये) की माँग की है। आपको बता दें, इस बेसिन में तेल निकालने का हक़ राज्य के अधीन काम करने वाली कंपनी ओएनजीसी का है। इसमें रिलायंस और उसकी सहयोगी कंपनियों ने दखलंदाजी की है।

आगे पढ़े अगले पेज पर: