JIO लगावा रही है 45000 टॉवर, आप भी लगवाइए और घर बैठे कमाइए 40 हजार रुपए प्रति महीना

जब से रिलायंस जियो आया है ग्राहकों के लिए तो मनो ख़ुशी की बहार आ गयी हो और ये अपने सस्ते प्लान्स के दम पे आज करोडों ग्राहकों को अपना साथी बना चूका है| ओगो को तो जैसे जिओ की आदत सी हो गयी है इसका 4g नेटवर्क इतना मजबूत है की ओसके आगे अच्छी अच्छी कंपनी टिक नही पा रही है| और आज हम आपके लिए एक ऐसी खबर लेकर आये है जिसे सुनकर आपका मन ख़ुशी से झूम उठेगा| जी हां दोस्तों जिओ अपने 4जी नेटवर्क को मजबूत करने के लिए अगले 6 महीनों में पूरे देश में 45000 मोबाइल टॉवर लगाने का प्लान बना रही है ऐसे में अगर आप के पास खली ज़मीं हो तो आप भी मोबाइल टॉवर के लिए आवेदन कर सकते हैं।

रिलायंस जियो का अगले 4 साल के दौरान 1 लाख करोड़ रुपए इन्वेस्टमेंट का प्लान है, जिसके तहत ये टॉवर भी लगाए जाने हैं। इस बारे में रिलायंस जियो और टेलिकॉम मिनिस्टर के बीच मीटिंग भी हुई है। जिसमे ये साफ़ कर दिया गया है की अब ये टावर जल्द से जल्द लग जायेंगे| अब अगर आपको पैसा कमाना है तो आपके लिए ये सुनहरा मौका हो सकता है इससे जुड़कर आप हर महीने बिना मेहनत के 25 से 30 हजार रुपए कमा सकते हैं। अगर आपका घर दिल्ली, मुंबई जैसे मेट्रो सिटीज में है तो आपकी मंथली इनकम डबल या इससे भी ज्यादा हो सकती है।रिलायंस जियो अपने 4जी नेटवर्क को मजबूत करने के लिए अगले 6 महीनों में पूरे देश में 45000 मोबाइल टॉवर लगाने जा रही है। जिसके लिए पूरी तयारी हो चुकी है और ऐसे में आप भी मोबाइल टॉवर के लिए आवेदन कर सकते हैं।

ये तो आप जानते ही है की रिलायंस के पास पैसो की कमी नही है ओए रिलायंस जियो का अगले 4 सालों में 1 लाख करोड़ रुपए इन्वेस्टमेंट करने का प्लान बनाया है, जिसके तहत ये सरे टॉवर भी लगाए जायेंगे| जैसे ही ज़मीं मिलनी शुरू हो जाएगी ये कंपनी जल्द ही टॉवर लगवाने का काम शुरू करने जा रही है। आपको ये भी बता दे की जियो पहले भी 1.6 लाख करोड़ रुपए इन्वेस्ट कर चुकी है और पूरे देश में 2.82 लाख बेस स्टेशन इंस्टाल किए जा चुके हैं। ये जानकारी जियो ने टेलिकॉम मिनिस्टर को दी है। जियो ने अपनी तरफ से कहा है की वह अपने ग्राहकों के सुविधा के लिए हर संभव प्रयास कर रही है ताकि उनको परेशानी न हो, लेकिन पर्याप्त संख्‍या में इंटरकनेक्शन प्वॉइंट नहीं मिलने से कंज्यूमर्स को दिक्कतें आ रही हैं।

 

सूत्रों का कहना है कि जियो टेलिकॉम मिनिस्टर ने प्रमुख टेलिकॉम ऑपरेटर्स से इंटरकनेक्शन प्वॉइंट का ये मामला आपस में मिलकर तुरंत सही करने को कहा है। आपको बता दे की मोबाइल ऑपरेटर्स कुछ प्राइवेट कंपनियों को मोबाइल टॉवर लगवाने का कांट्रैक्ट देती हैं। इंडस टॉवर्स, अमेरिकन टॉवर कॉरपोरेशन, भारती-इन्फ्राटेल, एटीसी, वायोम, जीटीएल जैसी प्राइवेट कंपनियां मोबाइल ऑपरेटर्स के बेस पर अलग-अलग लोकेशंस पर मोबाइल टॉवर लगाने का काम करती हैं। आप भी इन कंपनियों की वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन कर सकते हैं।अब आइये आपको बता दे की इसके लिए आपको करना क्या होगा

इसके लिए पहले आपको टॉवर लगाने वाली कंपनियों की वेबसाइट पर जाना होगा। वहां आपको एक लिंक मिलेगा, जिसमें अपने नाम और एड्रेस के साथ अपनी प्रॉपर्टी की डिटेल देनी होगी। आपको बताना होगा कि आपका छत, आपके नाम से है या नही इसके अलावा यह बताना होगा कि प्रॉपर्टी रेजिडेंशियल है या कमर्शियल।