शादी से खुश ना होने पर भी महिलाऐं इन 5 वजहों से नहीं देती पति को तलाक

दोस्तों हर साल भारत में लाखो शादियाँ होती हैं. जब किसी व्यक्ति की शादी होती हैं तो वो काफी खुश नज़र आता हैं. खासकर की महिलाएं अपनी शादी को लेकर काफी उत्साहित रहती हैं. उनके मन में कई विचार चल रहे होते हैं कि शादी के बाद वो ऐसा करेगी, वैसे करेगी, उनकी जिंदगी में ये अच्छा बदलाव आएगा इत्यादि. लेकिन एक कड़वा सच ये भी हैं कि शादी करने वाली 50 प्रतिसत से अधिक महिलाएं शादी के बाद खुश नहीं रहती हैं. शादी के बाद महिला के दुखी रहने के कई कारण हो सकते हैं. जैसे पति और ससुराल का प्यार ना मिलना, ससुराल में मारपीट होना, पति का किसी और महिला से चक्कर होना वगैरह वगैरह. इतनी सारी परेशानियाँ झेलने के बाद भी इनमे से कई महिलाऐं पति को तलाक देकर छोड़ देने की बजाए चुपचाप सबकुछ सहन करना पसंद करती हैं.

ऐसे में आप लोगो के मन में भी ये सवाल उठता होगा कि आखिर महिलाएं जब शादी से खुश नहीं होती हैं तो ये शादी तोड़ क्यों नहीं देती हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हमारे लिए ये बाते कहना आसान हैं लेकिन जिस महिला पर ये सब गुजर रही हैं उसके लिए शादी तोड़ना काफी मुश्किल भरा काम होता हैं. आज हम इन दुखी महिलाओं की कुछ ऐसी ही मजबूरियां आपको बताने वाले हैं जिनकी वजह से ये चाह कर भी अपनी बेकार शादीशुदा लाइफ के दलदल से बहार नहीं निकल पाती हैं.

इस कारण शादी से नाखुश महिला तोड़ पाती रिश्ता

1. लोग क्या कहेंगे: ये हमारे समाज की सबसे बड़ी समस्यां हैं. हर लड़की को अपने माता पिता की इज्जत प्यारी होती हैं. ऐसे में जब वो अपनी शादी तोड़ फिर से मायके में आ जाती हैं तो समाज में बदनामी होने का डर रहता हैं. इसलिए अपने माता पिता का मान रखने के लिए वो चुपचाप सबकुछ सहती रहती हैं.

2. जल्दी भावुक होना: कई बार ऐसा भी होता हैं कि शादी के कुछ दिनों तक तो सबकुछ अच्छा चलता हैं लेकिन फिर पति का किसी और महिला से चक्कर चलने लगता हैं. ऐसे में जब पत्नी को इसका पता चलता हैं तो पति उसे अपनी चिकनी चुपड़ी बातों से पटा लेता हैं. महिलाऐं भी भावनाओं में बह जाती हैं और सॉफ्ट नेचर होने के कारण पति को एक और मौक़ा दे देती हैं.

3. बच्चों का क्या होगा: ये एक ऐसा कारण हैं जिसकी वजह से भारत कि ना जाने कितनी महिलाएं अपनी शादी जैसे तैसे चला रही हैं. ससुराल और पति चाहे कैसा भी हो लेकिन जब आपके बच्चे अच्छे होते हैं तो उनकी अच्छी परवरिश के लालच में महिलाएं चुपचाप सबकुछ सहन कर लेती हैं.

4. लव मेरिज: जो महिलाऐं अपनी पसंद के लड़के से शादी करती हैं और फिर बाद में पछताती हैं वे अपना दर्द किसी से बयान नहीं कर पाती हैं. क्योंकि ऐसी स्थिति में सब उन्हें यही ताना मारते हैं कि तुमने ही तो लड़का पसंद किया था. इस डर की वजह से लव मेरिज वाली महिलाएं भी सबकुछ सहन कर लेती हैं.

5. हिम्मत हार जाना: बहुत सी महिलाएं शादी के बाद हाउस वाइफ बनकर रहती हैं. ऐसे में वो अपनी लाइफ के खर्चे पानी के लिए पति पर ही निर्भर करती हैं. इसलिए शादी टूटने के बाद उन्हें डर लगता हैं कि उनकी आगे की जिंदगी कैसे बीतेगी? वो कहाँ जाएगी? इसलिए मजबूरी में शादी नहीं तोड़ती हैं.