इन 10 तस्‍वीरों को देखकर इंजीनीयर से हमेशा के लिए उठ जाएगा आपका भरोसा

वैसे तो आपने तो इस दुनिया में कई ऐसी तस्‍वीरें देखी होंगी जिसे देखने के बाद आपको हंसी भी आती होगी या फिर आपको अपनी आंखों पर विश्‍वास नहीं होता होगा। आप सभी ने अभी तक सोशल मीडिया पर ऐसी कई तस्‍वीरें देखी होंगी जो दिखती तो कुछ और हैं लेकिन उसकी वास्‍तविकता कुछ और ही होती है। जी हां आप सही समझ रहे हैं हम उन्‍ही तस्‍वीरों की बात कर रहे हैं जिसे देखने के बाद आपका सिर घूम जाता है। आज हम भी आपको इस आर्टिकल के जरिए कुछ ऐसी ही तस्‍वीरें दिखाने जा रहे हैं जो वाकई में अपने आप में बड़ी ही अनोखी है और आप इन्‍हें देखने के बाद ये सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि आखिर ये कैसे हुआ। कई बार लोग इसे भ्रम का नाम दे देते हैं।भ्रम या इल्यूजन ये दोनों शब्द का तात्‍पर्य एक ही होता है।

वहीं आपको ये भी बता दें कि ये वो शब्द हैं जो किसी के भी दिमाग की बत्ती गुल कर देता है, जब भी बात होती है कि आंखों को धोखा देने की लोग इसमें कितने भी महारथी लोग होते हैं वो कहीं न कहीं आपकी नजरों को धोखा हो ही जाता है। ऐसे ही आजकल सोशल मीडिया पर कई सारी तस्‍वीरें सामने आती है जिसे देखने इसमें महारती लोग बस शुरू हो जाते है एक ही बार में और आपकी ही नजरों के आगे से कुछ ऐसा कर जाते है और आपको पता भी नही चल पाता आज हम आपके सामने ऐसी ही कुछ फोटोज रखेंगे जो कि ऑप्टिकल इल्यूजन से वास्ता रखती है।

आज हम आपको इसका एक उदाहरण पेश करने जा रहे हैं जो इस दुनिया में रहने वाले कमाल के इंजीनियर्स की कला है इन्‍होंने ने एक से बढ़ कर एक बड़ी और खूबसूरत इमारते बनाई हैं जिन्हे देखकर विश्वास ही नहीं होता हैं की कोई इंसान इस तरह की इमारत कैसे बना सकता हैं। लेकिन जैसा के सभी को मालुम ही हैं की हर काम में सिरफिरे तो हुआ ही करते हैं।

तो आज हम आप के लिए कुछ ऐसे ही सिरफिरे इंजीनियरों की सिरफिरे कारनामे लेकर आये हैं जिन्हे देखने के बाद आप अपनी हसी नहीं रोक पाएंगे। आज हम आपको इस सीरीज में मौजूद दस की दस फोटोज आपको सोचने पर मजबूर कर देंगी।

1. रेलिंग तक तो समझ आ रहा है पर निचे की सीढ़ियों का क्या हुआ?

2. अब आप ही बताओ इस दरवाजे तक जाये तो आखिर कैसे जाये ?

 

3. अपने काम को पूरा करने की बहुत जल्दी थी इस पेंटर को इसलिए कुछ ऐसा करके चला गया।

4. अब इसके बारे में हम क्या बोल स‍कते हैं ?

5. यहाँ हर चीज धूल जाती हैं ।

6. लगता है यह खानदानी दरवाज़ा आखिरी बार अंग्रेजों के टाइम पर ही खुला था।

7. क्रिएटिविटी दिखाने के चक्कर में कबाड़ा कर दिया।

8. इस ज़ेबरा क्रॉसिंग पर तो असली वाला ‘ज़ेबरा’ ही चल सकता है।

9. इन सीढ़ियों पर अगर कोई एक बार चढ़ गया तो वो दुबारा निचे नहीं आ सकता

10. इस घर को बनाने के लिए शायद मंगल ग्र्रह के इंजिनियर को बुलाया गया था।