लड़कियों की लाइफ में बॉयफ्रेंड से ज्यादा मायने रखते हैं बेस्ट फ्रेंड, आखिर ऐसा क्यों है । आप भी जान लीजिए

दोस्त तो सभी के होते हैं, लेकिन बेस्ट फ्रेंड किसी- किसी को ही नसीब होता है। जो हर सुख- दुख में उसके साथ खड़ा हो। आपने तो सुना ही होगा कि जिस इंसान के पास एक अच्छा दोस्त होता है, वो इंसान कभी अकेला नहीं पड़ता। वहीं आपने फिल्मों से लेकर असल जिंदगी तक में दोस्ती के कई किस्से भी जरूर ही सुने होंगे। वहीं अगर हम बात करें लडकियों की तो लोग कहते हैं कि एक लड़का और लड़की कभी अच्छे दोस्त नहीं हो सकते। लेकिन अब हमारे समाज के बदलते वातारण, कल्चर में ये बात बिल्कुल भी गलत साबित हो रही है। एक लड़का और एक लड़की ज्यादा अच्छे दोस्त बनते हैं। वहीं आजकल ये भी देखा गया है कि ज्यादातर लड़कियां अपने बॉयफ्रेंड से ज्यादा अहमियत अपने बेस्ट फ्रेंड को देती हैं। लड़कियों के लिए बॉय फ्रेंड से ज्यादा मायने रखते हैं बेस्ट फ्रेंड। तो आइए जानते हैं कि आखिर वो कौन से कारण हैं जिसकी वजह से लड़कियां अपने बॉयफ्रेंड से ज्यादा बेस्ट फ्रेंड को तवज्जो देती है।

1. कम्फर्टेबल महसूस करना– अक्सर देखा गया है कि लड़कियां अपने बॉयफ्रेंड से ज्यादा अपने बेस्ट फ्रेंड के साथ ज्यादा कम्फर्टेबल महसूस करती हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि दोस्तों के साथ ज्यादा फोर्मेलिटी नहीं होती। जबकि अगर आप अपने बॉयफ्रेंड के साथ होते हो, तो कहीं ना कहीं आप उनके साथ उतने फॉर्मल नहीं हो पाते, जितने बेस्ट फ्रेंड के साथ होते हो।

2. सीक्रेट्स शेयर करना- लड़कियां हमेशा अपने सीक्रेट्स अपने बेेस्ट फ्रेंड से ही शेयर करती है। क्योंकि उन्हें अपने बेस्ट फ्रेंड पर पूरा भरोसा होता है कि वो उसे कहीं लीक नहीं करेगा। जबकि लड़कियों में ये डर होता है कि ना जाने उसकी ये सीक्रेट बात जान कर कैसे रिएक्ट करेगा उनका बॉय फ्रेंड ।

3.  ज्यादा मस्ती करना-  अपने बेस्ट फ्रेंड के साथ ही लड़कियां सबसे ज्यादा मस्ती कर पाती है, क्योंकि वहां दिखावे के लिए कोई जगह नहीं होती। जबकि बॉय फ्रेंड के साथ लड़कियां उतना फ्री फील नहीं करवाती है जितना की फ्रेंड के साथ। देखा गया है कि अक्सर बॉय फ्रेंड्स अपनी लेडी लव के लिए इतने पॉजेसिव होते हैं कि उन पर कुछ ज्यादा ही रोक- टोक करते हैं ।

4. गलतियां बताना- आपकी गलतियां आपके बेस्ट फ्रेंड के अलावा कोई नहीं बता सकते । जी हां, ऐसा आपके साथ भी जरूर होता होगा। क्योंकि फ्रेंड्स आपको बेहतर तरीके से पहचानते हैं, और वो आपकी गलतियां बताने से नहीं हिचकते, जबकि बॉय फ्रेंड  को ये डर होता है कि कहीं आपकी गलतियां बताने पर उनसे नाराज ना हो जाएं। इसलिए बॉयफ्रेंड लड़कियों को उनकी गलतियां बताने से हिचकिचाते हैं।

5. घूमना- अपने बेस्ट फ्रेंड के साथ आप कहीं भी घूमने जा सकते हो। फ्रेंड्स के साथ घूमने की इजाजत तो पेरेंट्स भी दे देते हैं, लेकिन बॉय फ्रेंड के साथ बाहर घूमने के लिए आपकी बड़ी मशक्कत करनी पड़ती है।

6. ईमानदारी होना– फ्रेंडसशिप एक ऐसा रिलेशन हैं जहां झूठ की कोई जगह नहीं होती, क्योंकि यहां आपके मन में डर नहीं होता। फ्रेंडशिप में हमेशा ईमानदारी होती है और हमेशा एक दूसरे को सच बताते हैं जबकि बॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड से अक्सर लोग रिलेशन को बचाने के लिए झूठ बोलते हैं।