मरने के बाद फिर से जिन्दा हुआ ये शख्स, बताया मरने के बाद क्या हुआ उसके साथ !

दुनिया में बहुत से लोगो के मन में ये जानने की इच्छा होती है, कि आखिर मरने के बाद क्या होता. आखिर मरने के बाद इंसान की आत्मा कहा जाती है और उसकी आत्मा के साथ क्या होता है. मगर आज तक इस सवाल का सही जवाब नहीं मिल पाया है. बरहलाल आज हम आपको कुछ ऐसा बताएंगे जिसे जानने के बाद शायद आपको आपके सभी सवालों का जवाब मिल जाएँ.

जी हां आज हम आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताना चाहते है, जो मरने के बाद जिन्दा हो गया और यकीन मानिए ये कोई फ़िल्मी कहानी नहीं बल्कि सच्चाई है. वास्तव में वो इंसान मरने के बाद जिन्दा हो गया. हालांकि ये जान कर आपको हैरानी जरूर हुई होगी पर यही सच है. गौरतलब है, कि इस शख्स का नाम विलियम्स है और इनकी उम्र 57 वर्ष है. दरअसल विलियम्स को 2011 में किसी बीमारी के चलते हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था.

मगर जब इन्हे ऑपरेशन थिएटर में लाया गया, तभी इन्हे हार्ट अटैक आ गया. इसके इलावा ऑक्सीजन की कमी के कारण इनके दिमाग ने भी काम करना बंद कर दिया. ऐसे में डॉक्टर्स ने भी इन्हे मरा हुआ घोषित कर दिया. मगर आपको जान कर हैरानी होगी कि कुछ ही देर बाद उन्होंने आँखे खोल ली और उसके बाद उन्होंने जो बताया वो बेहद चौंकाने वाला था. गौरतलब है, कि उन्होंने उन सब बातो और चीजों का जिक्र किया जो उन्हें मरते समय दिखे थे.

इसके इलावा जो बातें उन्होंने आंखे खोलने के बाद बताई वो सब सच थी. हालांकि जब ये सब बातें हुई तब उनकी सांसे जा चुकी थी. पर फिर भी उन्हें सब कुछ मालूम था. ऐसा लग रहा था जैसे वो कभी मरे ही नहीं थे. वैसे आपने अक्सर कई लोगो से ये सुना होगा कि मरने के बाद सबसे पहले काफी तेज रौशनी दिखाई देती है और साथ ही एक साया भी आता है, जो आत्मा को लेकर चला जाता है. मगर विलियम्स ने जो बातें बताई वो इन सबसे मेल नहीं खाती थी.

जी हां विलियम्स के मुताबिक वो मौत के तीन मिनट तक वही थे और अपने आस पास हो रही सभी हरकते और बातें महसूस कर रहे थे. यहाँ तक कि हॉस्पिटल स्टाफ ने भी खुद ये कहा कि विलयम्स ने जो भी बातें बताई वो सब सच थी. हालांकि डॉक्टर ने उन्हें मरा हुआ घोषित कर दिया था, पर फिर भी उन्हें मरने के बाद की सभी घटनाएं याद थी. इस दौरान विलियम्स ने बताया कि मेडिकल स्टाफ उन्हें झटके दे रहा था और उन्हें दो लोगो की आवाज भी सुनाई दे रही थी.

इनमे से एक आवाज उस मेडिकल स्टाफ की थी जो उन्हें बार बार झटके दे रहे थे और दूसरी आवाज उस महिला की थी, जो उनका हाथ पकड़ कर उन्हें छत के रास्ते बाहर ले जाना चाहती थी. ऐसे में उन्होंने उस महिला की बात सुनी और छत के रास्ते बाहर निकल आये. इसके इलावा मौत के दौरान उन्हें ऐसा लग रहा था, कि जो महिला उन्हें लेकर जा रही है, वो उनकी जान पहचान की है. इसके साथ ही उन्हें ऐसा लग रहा था जैसे वो महिला किसी कारण से वहां आयी है, मगर वो कारण क्या था, ये उन्हें नहीं पता था. बस इसके बाद उन्हें जोर का झटका लगा और उन्हें अपनी आँखों के सामने सब कुछ साफ़ साफ़ दिखाई देने लगा.

इसका मतलब ये हुआ कि झटका लगने के बाद वो फिर से जिन्दा हो गए थे. वैसे इन सब बातों को जानने के बाद ये कहना गलत नहीं होगा कि मौत कब किस करवट बदल जाए ये कोई नहीं कह सकता.