अमरनाथ हमले पर अक्षय कुमार ने ट्विटर पर जो कहा उसे पढ़कर आपका खून खौल जाएगा

हाल ही में हुए अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमले से पूरा देश सदमे में हैं। इस हमले में 7 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 25 श्रद्धालु घायल हो गए हैं। वहीं दूसरी तरफ इस घटना को लेकर बॉलीवुड स्टार्स ने ट्विटर पर शोक जाहिर किया। साथ ही हमले की कड़ी निंदा भी की है। सोमवार की शाम को जहां अक्षय कुमार ने इस घटना की निंदा करते हुए दुख जताया है, वहीं शाहरुख खान ने भी ट्वीट कर अपना गुस्सा निकाला है। अक्षय कुमार ने इस घटना पर लिखा, ‘मासूम अमरनाथ तीर्थ यात्रियों पर हमला, नीचे गिरने की पराकाष्‍ठा है। क्रोधित और दुखी… सभी प्रभावित लोगों के साथ मेरी दुआएं हैं।’ इसके अलावा फरहान अख्‍तर, विवेक ओबरॉय, हुमा कुरैशी, रेणुका शहाणे जैसे कई सितारों ने इस घटना पर बेहद दुख जताया है।

 

 

बता दें कि ये हमला सोमवार रात करीब 8:20 बजे हुआ। घायलों में से कई की हालत नाजुक बनी हुई है उन्हें अनंतनाग और श्रीनगर के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने सात यात्रियों के मारे जाने की पुष्टि की है। मरने वाले सभी श्रद्धालु गुजरात के रहने वाले हैं। हमले को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने तीर्थयात्रा के शांतिपूर्ण संचालन के लिए राज्य सरकार की मदद हेतु 40,000 अतिरिक्त केंद्रीय सुरक्षाबलों की तैनाती की है। सुरक्षाबल श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा, ड्रोन, बुलेटप्रूफ मोबाइल बंकर सहित अन्य उपकरणों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

वहीं दूसरी तरफ इस हमले की आड़ में कुछ राजनीतिक पार्टियाँ रोटियां सेंक रही हैं, कई आरोप लगाए जा रहे है सवाल उठाया जा रहा है, आखिर हमला गुजरात से आ रही बस पर ही क्यों किया गया? हमले में मरने वाले लोग गुजरात से ही क्यों थे? क्या ये सब करके मोदी सरकार 2017 में होने वाले गुजरात चुनाव को जीतना चाहती है? इस तरह के बेबुनियादी सवालो का क्या मतलब है।

सरकार ने हमले के जांच के आदेश दे दिये थे जिसमे अब कई सारे चौंकाने वाले खुलासे किये जा रहे हैं जिनके बारे में जानकर अलका लाम्बा जैसे लोगों के शक तो दूर होंगे ही साथ ही आपको भी गहरा झटका लगेगा। हमले की जड़ तक पहुँचने में जुटी जांच एजेंसीज ने पहला खुलासा करते हुए कहा है कि ऐसा नहीं है कि ये हमला तुरंत ही किया गया हो बल्कि इस हमले के पीछे कई दिनों की रेकी है। जांच एजेंसी ने बताया कि ये अमरनाथ यात्रा कई दिनों से आतंकियों के निशाने पर थी। इस हमले में आतंकियों का खासकर निशाना थे UP-गुजरात के लोग।