उत्तराखंड सरकार ने मुस्लिम कर्मचारियों द्वारा अदा की जाने वाली नमाज को लेकर सुनाया एक बड़ा फैसला !

गौरतलब है, कि उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह ने मुस्लिम कर्मचारियों को लेकर एक अहम फैसला लिया है. जी हां आपको बता दे कि सत्ता में आई बीजेपी सरकार ने सरकारी मुस्लिम कर्मचारियों को नमाज के लिए मिलने वाली छुट्टी को खत्म करने का फैसला ले लिया है. अगर सीधे शब्दों में कहे तो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने खुद ये फैसला किया है, कि अब सरकारी कार्यालयों में काम करने वाले मुस्लिम कर्मचारियों को शुक्रवार यानि जुमे के दिन नमाज अदा करने के लिए अलग छुट्टी नहीं दी जाएगी.

वैसे इसके साथ ही आपको ये भी बता दें कि विधानसभा चुनावों से पहले मुस्लिम मतदाताओं को खुश करने के लिए तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने ये फैसला किया था कि मुस्लिम कर्मचारियों को काम के दौरान नमाज के लिए अतिरिक्ति डेढ़ घंटा दिया जाएगा. वही बीजेपी ने इस फैसले का विरोध किया था. दरअसल इस बारे में बीजेपी का कहना था कि अगर मुस्लिमों को इसी तरह छुट्टी दी जाएगी, तो हिंदूओं को भी अपने भगवान की पूजा करने के लिए छुट्टी दी जानी चाहिए. इसके इलावा इस बारे में त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना था, कि कांग्रेस द्वारा लिया गया यह फैसला गलत था. जिस कारण उन्हें कई लोगों की नाराजगी का सामना भी करना पड़ा.

आगे पढ़े अगले पेज पर..